SHOWMANSHIP

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी के पूर्व कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया गया , 63 साल के इस व्यक्ति पर आरोप हैं कि उसने JNU और आईआईटी के बहुत से प्रोफेसरों को ग्यारह करोड़ का धोखाधड़ी कि हैं , पुलिस का कहना हैं कि आरोपी ने डीडीए कि कथित लैंड पुल्लिंग पालिसी के तहत हॉउसिंग प्रजेक्ट के नाम पर ठगी कि हैं आरोपी का नाम पीड़ी गायकवाड़ के नाम पार हुई हैं और उसका गांव गुरुग्राम हैं।
पीड़ित प्रोफेसरों ने इसके खिलाफ शिकायत दर्ज कि हैं आरोप हैं कि यूनिवर्सिटी के स्कुल ऑफ़ एन्वॉयरन्मेंट साइंसेज एंड साइंटिफिक काम करने वाले गायकवाड़ ने साल 2015 नोबेल सोशल साइंटिफिक वेलफेयर आर्गेनाइजेशन का गठन इससे उन्होंने दवा किया था कि वह इससे लोगों के लिए सस्ते मकान बनाएंगे , उन्होंने कथित तौर पार प्रेसन्टेशन दिया और उन्हें संगठन का सदस्य बनाने के लिए प्रेरित किया

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि एक बरिष्ठ अधिकारी होने के साथ साथ और संगठन के अध्यक्ष होने के नाते सदस्य को बताया कि NSSW डीडीए के लैंडपूल पालिसी के तहत एल जॉन में जमीन खरीदेगा , जिन्होंने शिकायत दर्ज कि थी वह NSSO के मेंबर बन गए और प्रोजेक्ट में अपना घर भी बुक करवा लिया था , 1 नवंबर 2015 को आरोपी इनको एल जॉन में जमीन दिखने ले गया था और बड़ी बात यह हैं कि जमीन का कोई दस्तावेज इनको नहीं दिखाया गया था। शिकायतकर्ताओं को एहसास हुआ जो कि कुछ सालों में कि वह हो सकता हैं ठगी का शिकार हुए हैं।

Read More: Click Here

साल 2019 में शिकाय करने वालो ने बताया कि गायकवाड़ ने कहा कि उनका ऑफिस अब बदल कर अफसर हाउसिंग एंड सोशल वेलफेयर सोसाइटी लांच करने जा रहे हैं उनको पैसा लौटने को कहा अभी तक वह सबसे 11 करोड़ रुपए ले चुका हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *