SHOWMANSHIP

दिल्ली में नए साल की शाम को कोहरे का रेड अलर्ट , बढ़ सकती है और ठिठुरन

दिल्ली NCR के कई इलाके कोहरे की चपेट में रहेंगे , रिपोर्ट्स के अनुसार कुछ इलाको से पहले के मुकाबले विजिबिलिटी में सुधर हुआ है। भारतीय मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली कि सारदगंज में दृश्यता 200 मीटर रही और 500 रही हरीजगहो पर। कोहरे के कारण ये चौथा दिन था जब ट्रेन कि सेवाएं प्रभावित हुई जिसके वजह से नयी दिल्ली से चलने वाली तीस ट्रेनें देरी से चली ।
भारतीय मौसम विभाग(IMD) ने कहा कि आने वाले साल में मौसम का पारा गिर सकता है , हालाँकि पिछले दिन ये सामन्य से पांच डिग्री अधिक था , कहीं – कहीं पारा तीन डिग्री तक गिर सकता है। IMD के मुताबिक शनिवार को राष्ट्रयि राजधानी का तापमान 20.3 डिग्री सेल्सियस तक नोट किया गया। जो कि इस साल का सबसे सामन्य है जबकि न्यूनतम तापमान पंचदगरी से अधिक 11.8 डिग्री सेल्सियस रहा।

मौसम विभाग ने बताया क्या रहेगा न्यूनतम तापमान

IMD ने बताया कि आने वाले सात दिनों तक दिल्ली का कम तापमान 7 से 11 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 18 से 20 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने कि उम्मीद है , और पुरे हफ्ते कोहरा बना रहेगा। वहीँ तमिलनाडु के कुश क्षेत्रो तथा दक्षिण केरल और पूर्वोत्तर भारत के कुछ स्थो में हल्की बना बंदी हो सकती है , आपको बता दें पश्चिमी हिमालय , झारखंड , ओडिशा में बैश होने कि उम्मीद जताई जा रही है और हरियाणा , पंजाब , दिल्ली में ठण्ड ज्यादा बढ़ सकती है

और आपको बता दें शहर के बहुत से इलाको में तापमान औसत से ऊपर ही है IMD ने बताया कि में सापेक्षिक आद्रता 88
से 87 फीसदी के बीच में दर्ज कि गयी , और कहा जा रहा है रविवार को कोहरा सामन्य दिनों से ज्यादा छाया रहेगा और अधिकतम तापमान 19 से 11 डिग्री सेल्सियस के बीच में रहेगा , वहीँ फरीदाबाद (18.8 – 12.9 )और गुरुग्राम (18.6 – 11.6 ) में तापमान डिग्री के बीच रहेगा। इसके साथ – साथ मौसम विभाग ने दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश , , उत्तरी राजस्थान और उत्तरी मध्य प्रदेश में मौसम को लेकर पहले ही परामर्श दे दिया है जिसके चलते हवाई अड्डों , रेलवे मार्ग कि दृश्यता प्रवाभित हो सकती है।

Also Read : साल के अंत और नए साल की शुरुआत में हो सकती है और कड़ाके की ठंड बढ़ सकती है

दिल्ली में घने कोहरे के कारण शनिवार को यात्रियों को काफी घने कोहरे से दिक्क्तों का सामना करना पड़ा , सुबह दृश्यता इतनी कम थी कि 80 विमानों को उड़ान भरने में दिक्कत हुई और यह प्रवाभ इंटरनेशनल और घरेलू दोनों हवाई उड़ानों को हुआ जिसकी वजह से दिल्ली हवाई अड्डे से कई उड़ाने घंटो कि देरी के बाद उड़ सकीं उसी तरह दूसरी जगह से दिल्ली को आने वाली ट्रेनों कि भी इसी समस्या से झूझना पड़ा। जिस वजह से स्टेशन पर यात्रियों कि काफी भीड़ देखने को मिली , इसी कि चलते कई ट्रेनों को रद भी करना पड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *