SHOWMANSHIP

अमेरिका ने भी इजराइल को सैन्य मदद देने का ऐलान किया है। अमेरिका ने इजराइल को 100 मिलियन डॉलर की सैन्य सहायता देने का फैसला किया है।

इजरायल और गाजा पट्टी में जारी युद्ध में सोमवार को भी दोनों ओर से गोलाबारी जारी रही। इजराइल ने हमास के कई ठिकानों को तबाह कर दिया, जिसमें एक हथियार निर्माण सुविधा और एक रॉकेट प्रक्षेपण स्थल शामिल है।

इजरायल ने कहा कि वह हमास के खिलाफ अपनी कार्रवाई जारी रखेगा जब तक कि वे रॉकेट हमलों को रोकने के लिए प्रतिबद्ध नहीं हो जाते।

अमेरिका ने भी इजराइल को सैन्य मदद देने का ऐलान किया है। अमेरिका ने इजराइल को 100 मिलियन डॉलर की सैन्य सहायता देने का फैसला किया है। इस सहायता में हथियार, गोला-बारूद और अन्य सैन्य उपकरण शामिल हैं।

अमेरिका के फैसले पर प्रतिक्रियाएं:

  • इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने अमेरिका के फैसले की सराहना की। उन्होंने कहा कि यह इजरायल के लिए एक महत्वपूर्ण समर्थन है।
  • हमास ने अमेरिका के फैसले की निंदा की। हमास ने कहा कि यह इजरायल के हमलों को बढ़ावा देने वाला कदम है।

युद्ध की स्थिति:

  • इजरायल ने हमास के खिलाफ हवाई हमलों को तेज कर दिया है। इजरायल ने हमास के कई ठिकानों को तबाह कर दिया है।
  • हमास ने भी इजरायल पर रॉकेट हमलों को जारी रखा है। हमास ने इजरायल के कई शहरों को रॉकेट हमलों से निशाना बनाया है।
  • इस युद्ध में अब तक 600 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं, जिनमें से अधिकांश गाजा पट्टी में हैं।

युद्ध के कारण:

  • युद्ध की शुरुआत हमास के रॉकेट हमलों से हुई थी। हमास ने इजरायल के दक्षिणी शहरों पर रॉकेट हमले किए थे।
  • इजरायल ने हमास के खिलाफ जवाबी कार्रवाई की और हवाई हमलों की शुरुआत की।
  • इजरायल का कहना है कि हमास के रॉकेट हमले को रोकने के लिए उसे कार्रवाई करनी पड़ी।
  • हमास का कहना है कि वह इजरायल के कब्जे और उत्पीड़न के खिलाफ लड़ रहा है।

युद्ध के भविष्य:

  • युद्ध के जल्द खत्म होने की संभावना नहीं है। दोनों पक्षों के बीच कोई बातचीत नहीं हो रही है।
  • युद्ध के जारी रहने से मानवीय संकट और बढ़ने की संभावना है।

Read More News Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *