SHOWMANSHIP

तमिलनाडु मर्केंटाइल बैंक के खाताधारक एक कैब ड्राइवर के खाते में गलती से 9,000 करोड़ रुपये जमा होने के एक हफ्ते बाद आया है.

तमिलनाडु मर्केंटाइल बैंक (टीएमबी) के प्रबंध निदेशक और सीईओ एस कृष्णन ने बैंक अपने पद से शुक्रवार को इस्तीफा दे दिया. उन्होंने अपना इस्तीफा बैंक द्वारा चेन्नई में एक कैब ड्राइवर को गलती से 9,000 करोड़ रुपये क्रेडिट करने के कुछ दिनों बाद दिया है. एस कृष्णन ने अपने इस्तीफे के पीछे व्यक्तिगत कारण बताया है. कृष्णन ने अपने त्याग पत्र में लिखा, “हालांकि मेरा अभी भी लगभग दो-तिहाई कार्यकाल बाकी है, व्यक्तिगत कारणों से मैंने बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ के पद से इस्तीफा देने का फैसला किया है.”  कृष्णन ने सितंबर 2022 में बैंक के प्रमुख के रूप में कार्यभार संभाला था.

थूथुकुडी स्थित बैंक के निदेशक मंडल ने गुरुवार को एक बैठक की और उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया और इसे भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को भेज दिया. बैंक ने एक बयान में कहा, “आरबीआई से मार्गदर्शन/सलाह मिलने तक एस कृष्णन एमडी और सीईओ बने रहेंगे, जिसे उचित समय पर सूचित किया जाएगा.” यह घटनाक्रम तमिलनाडु मर्केंटाइल बैंक के खाताधारक एक कैब ड्राइवर के खाते में गलती से 9,000 करोड़ रुपये जमा होने के एक हफ्ते बाद आया है.

बीते 9 सितंबर को कैब ड्राइवर राजकुमार को एक मैसेज मिला कि तमिलनाडु मर्केंटाइल बैंक ने उसके अकाउंट में 9,000 करोड़ रुपये जमा किए हैं. पहले तो राजकुमार को इस बात पर विश्वास नहीं हुआ. शुरुआत में उसे लगा कि यह एक फ्रॉड है. लेकिन इसकी सत्यता की जांच के लिए राजकुमार ने अपने दोस्त को 21,000 रुपये ट्रांसफर करने की कोशिश की, जो सफल हो गया. तब उसे लगा कि सही में उसके बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर कर दिए गए हैं. हालांकि कुछ ही देर में शेष राशि बैंक द्वारा काट ली गई. इस साल जून में, आयकर विभाग ने बैंक पर एक सत्यापन प्रक्रिया को अंजाम दिया था और कथित तौर पर कुछ अनियमितताओं को चिह्नित किया था

Read More News Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *