SHOWMANSHIP

डिजिटल धोखाधड़ी बहुत परिष्कृत होती जा रही है।

डिजिटल धोखाधड़ी बहुत परिष्कृत होती जा रही है और तथ्यों और कल्पना के बीच की रेखा पहले से कहीं ज्यादा पतली होती जा रही है। हमारा जीवन अब और अधिक वस्तुतः जुड़ा हुआ है, जिससे मित्रों और परिवार के सदस्यों के लिए वीडियो कॉल पर चैट करना बहुत सामान्य है। लेकिन क्या होगा अगर ये वीडियो कॉल धोखाधड़ी के अलावा कुछ नहीं हैं?

जुलाई में, केरल के एक व्यक्ति को 40,000 रुपये का चूना लगाया गया। पीड़ित, राधाकृष्णन को एक अज्ञात नंबर से एक वीडियो कॉल आया। कॉल उठाने पर उन्होंने पाया कि कॉल पर मौजूद व्यक्ति की छवि उनके एक पूर्व सहकर्मी से मिलती-जुलती है। कॉल के कुछ मिनट बाद, कॉल करने वाले ने मेडिकल इमरजेंसी के लिए पैसे मांगे। राधाकृष्णन को यह एहसास हुआ कि वह एक AI घोटाले का शिकार हो गया है, तब तक वह राशि ट्रांसफर कर चुका था।

नकली वीडियो कॉल एक तेजी से बढ़ता हुआ खतरा है, और यह महत्वपूर्ण है कि हम इस प्रकार की धोखाधड़ी से कैसे बचें, इसके बारे में जागरूक रहें। यहां कुछ युक्तियां दी गई हैं:

  • अज्ञात नंबरों से वीडियो कॉल स्वीकार न करें।
  • यदि आप किसी ऐसे व्यक्ति से वीडियो कॉल प्राप्त करते हैं जिसे आप नहीं जानते हैं, तो उन्हें यह सत्यापित करने के लिए कहें कि वे कौन हैं।
  • कभी भी किसी ऐसे व्यक्ति को पैसे न भेजें जिससे आप व्यक्तिगत रूप से नहीं मिले हैं।
  • यदि आपको लगता है कि आपको धोखा दिया गया है, तो तुरंत अपने स्थानीय पुलिस विभाग से संपर्क करें।

यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि साइबर अपराधी बहुत चालाक होते हैं और वे लोगों को धोखा देने के लिए नए और नए तरीकों का इस्तेमाल करते रहते हैं। हमेशा सतर्क रहें और कभी भी अजनबियों पर भरोसा न करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *