SHOWMANSHIP

“मैं उन फिल्मों में काम नहीं करना चाहती जो महिलाओं को सिर्फ एक वस्तु के रूप में पेश करती हैं या रिश्तों में उनके बलिदान को बढ़ावा देती हैं।”

तमन्ना भाटिया ने हाल ही में एक इंटरव्यू में कहा कि वह उन दक्षिण भारतीय फिल्मों से दूर रहती हैं, जिनमें ‘जहरीली मर्दानगी’ का जश्न मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि वह ऐसी फिल्मों में काम नहीं करना चाहतीं जो महिलाओं और रिश्तों को नकारात्मक रोशनी में पेश करती हैं।

तमन्ना ने कहा, “मैं उन फिल्मों में काम नहीं करना चाहती जो महिलाओं को सिर्फ एक वस्तु के रूप में पेश करती हैं या रिश्तों में उनके बलिदान को बढ़ावा देती हैं। मैं ऐसी फिल्में करना चाहती हूं जो महिलाओं को मजबूत और स्वतंत्र व्यक्ति के रूप में पेश करें और रिश्तों में समानता को बढ़ावा दें।”

उन्होंने आगे कहा कि वह ऐसी फिल्में करना चाहती हैं जो समाज में सकारात्मक बदलाव ला सकें। उन्होंने कहा, “मैं ऐसी फिल्में करना चाहती हूं जो लोगों को सोचने पर मजबूर करें और समाज में बदलाव लाने के लिए प्रेरित करें।”

तमन्ना भाटिया ने हाल ही में कई हिट फिल्मों में काम किया है, जिनमें ‘बाहुबली 2: द कन्क्लूजन’, ‘देव’, ‘डब्लू/ओ लव’ और ‘मास्टर’ शामिल हैं। वह बॉलीवुड में भी काम कर चुकी हैं और कई सुपरहिट फिल्मों में नज़र आ चुकी हैं, जिनमें ‘हिम्मतवाला’, ‘एंटरटेनमेंट’ और ‘बाहुबली: द बिगिनिंग’ शामिल हैं।

तमन्ना भाटिया बॉलीवुड और दक्षिण भारतीय फिल्म उद्योग की सबसे लोकप्रिय और सफल अभिनेत्रियों में से एक हैं। वह एक प्रतिभाशाली अभिनेत्री हैं और उन्होंने अपनी फिल्मों से दर्शकों का दिल जीता है। वह एक सामाजिक रूप से जागरूक अभिनेत्री भी हैं और वह अक्सर महिलाओं के अधिकारों और समानता के बारे में बात करती हैं।

Read More News Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *