SHOWMANSHIP

सुखा डूनेके, कैनेडा में गोली मारकर मार दिये जाने वाले व्यक्ति कौन थे?

सुखदूल सिंह, जिन्हें सुखा डूनेके के नाम से भी जाना जाता था, एक गैंगस्टर थे जो पंजाब, भारत, के मोगा जिले के निवासी थे। वह दविंदर बम्बिहा गैंग के सदस्य थे, एक पंजाबी आपराध संगठन। डूनेके ने कई अपराधिक गतिविधियों में भाग लिया, जैसे कि हत्या, उग्रवाद, और मादक पदार्थ तस्करी। उनका यह भी संदेह था कि उनके पास प्रो-खालिस्तान आतंकवादी समूहों के साथ कुछ संबंध हो सकते हैं।

सुखा डूनेके ने भारत में गिरफ्तारी से बचने के लिए 2017 में कैनेडा भाग गए। उन्हें 2019 में कैनेडा में आपराधिक गतिविधियों के आरोप में गिरफ्तार किया गया, लेकिन उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया।

डूनेके को 20 सितंबर 2023 को कैनेडा के विनिपेग में गोली मारकर मार दिया गया। माना जाता है कि यह गोली मारकर मार दिये जाने का हिस्सा दविंदर बम्बिहा गैंग और उसके प्रतिद्वंद्वी गैंग के बीच चल रहे गैंग युद्ध का हिस्सा था।

डूनेके एक विवादास्पद व्यक्ति थे। वे अपने दिखावटी जीवन और अपने दोस्तों और परिवार के प्रति उनके दानशीलता के लिए जाने जाते थे। हालांकि, उनके हिंसक प्रकृति और गैंग गतिविधियों में भागीदारी के लिए भी उनकी पहचान थी।

पंजाबी समुदाय में कुछ लोग डूनेके की मौत का शोक मना रहे हैं, जबकि अन्य लोग खुशी के साथ उनके चले जाने का इजहार कर रहे हैं। भारतीय सरकार ने डूनेके की मौत का स्वागत किया है, कहते हुए कि वह एक खतरनाक अपराधी थे जो लोगों की सुरक्षा के लिए खतरा बनते थे।

डूनेके की मौत पंजाबी दियास्पोरा में बढ़ चढ़कर गई गैंग हिंसा की समस्या की याद दिलाती है। दविंदर बम्बिहा गैंग जैसे गैंग्स कई प्रकार की आपराधिक गतिविधियों में शामिल हैं, जैसे कि हत्या, उग्रवाद, और मादक पदार्थ तस्करी। उनके प्रो-खालिस्तान आतंकवादी समूहों के साथ कुछ संबंध होने का भी संदेह है।

कैनेडियन सरकार ने पंजाबी समुदाय में

गैंग हिंसा की समस्या का समाधान करने के लिए कुछ कदम उठाए हैं। हालांकि, और भी कार्रवाई की आवश्यकता है ताकि युवाओं को गैंगों में शामिल होने से रोका जा सके और गैंग सदस्यों को न्याय मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *