SHOWMANSHIP

बेंगलुरु की एड-टेक कंपनी BYJU’s ने इस वित्तीय वर्ष में 3,500 कर्मचारियों की छंटनी करने का फैसला किया है। यह जानकारी रायटर्स ने सूत्रों के हवाले से दी है। कंपनी के इस फैसले से कंपनी के लगभग 11% कर्मचारी प्रभावित होंगे। BYJU’s के पास इस समय लगभग 30,000 कर्मचारी हैं।

कंपनी के प्रवक्ता ने इस खबर की पुष्टि की है और कहा है कि कंपनी अपने कारोबार को पुनर्गठित करने और अप्रभावी कार्यों को समाप्त करने के लिए यह कदम उठा रही है। प्रवक्ता ने कहा, “हम अपने कारोबार को पुनर्गठित करने और अप्रभावी कार्यों को समाप्त करने की प्रक्रिया में हैं। इस प्रक्रिया के तहत कुछ कर्मचारियों को नौकरी से निकाले जाने की संभावना है। हम इस मुश्किल समय में अपने कर्मचारियों का समर्थन कर रहे हैं और उन्हें हर संभव मदद दे रहे हैं।”

पिछले कुछ महीनों में BYJU’s ने अपने खर्चों में कटौती की है और अपने कारोबार को पुनर्गठित किया है। कंपनी ने पिछले साल मार्च में $800 मिलियन का फंड जुटाया था, लेकिन इस साल अप्रैल में कंपनी ने कहा था कि वह अपनी वैल्यूएशन को $22 बिलियन से घटाकर $12 बिलियन कर रही है।

BYJU’s की छंटनी का फैसला ऐसे समय में आया है जब वैश्विक अर्थव्यवस्था मंदी की ओर बढ़ रही है और कई टेक्नोलॉजी कंपनियां छंटनी कर रही हैं। हाल ही में मेटा, नेटफ्लिक्स और ट्विटर जैसी कंपनियों ने भी छंटनी की है।

BYJU’s भारत की सबसे बड़ी एड-टेक कंपनी है। कंपनी की स्थापना 2011 में बेंगलुरु में हुई थी। कंपनी के पास इस समय लगभग 150 मिलियन रजिस्टर्ड यूजर्स हैं और कंपनी के ऐप्स को हर महीने लगभग 100 मिलियन डिवाइसेस पर डाउनलोड किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *