SHOWMANSHIP

महादेव एप स्कैम मामले में ईडी ने बॉलीवुड अभिनेता रणबीर कपूर को नोटिस भेजा है। उन्हें 6 अक्टूबर को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। इसके साथ ही कई अन्य स्टार भी ईडी की रडार पर हैं।

महादेव एप मामले (Mahadev App Case) में ईडी ने बॉलीवुड एक्टर रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) को 6 अक्टूबर को तलब किया है। इस मामले में टाइगर श्रॉफ, नेहा कक्कड़, विशाल डडलानी, आतिफ असलम, राहत फतेह अली खान, अली असगर और सनी लियोनी समेत कई अन्य स्टार भी जांच एजेंसियों की रडार पर हैं। सूत्रों के मुताबिक जांच एजेंसियों को इस बात के सबूत मिले हैं कि महादेव ऐप के मालिकों ने अपने गेमिंग प्लेटफॉर्म का प्रचार करने के बदले पैसे दिए थे। रणबीर कपूर इस ऐप के विज्ञापनों और सोशल मीडिया प्रमोशन में दिखाई दिए थे। आखिर यह मामला क्या और इसकी जांच के दायरे में बॉलीवुड की तमाम हस्तियां क्यों आई हैं, विस्तार से समझते हैं।

महादेव एप मामला क्या है?

महादेव ऑनलाइन बुक बेटिंग ऐप कई वेबसाइट व एप का एक सिंडिकेट है। सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल ने मिलकर इस एप को शुरु किया था। यह करीब पिछले 4 सालों से चालू है। कंपनी के प्रमोटर छत्तीसगढ़ के भिलाई के रहने वाले हैं। यह प्लेटफॉर्म कथित तौर पर क्रिकेट, टेनिस, बैडमिंटन, पोकर और कार्ड गेम सहित कई तरह के लाइव गेम में अवैध सट्टेबाजी के लिए ऑनलाइन मंच मुहैया कराती है। बेटिंग ऐप को 70:30 के लाभ अनुपात पर फ्रेंचाइजी देकर चलाया जाता है। इसका हेडक्वार्टर UAE में स्थित है। इस एप्लिकेशन के कॉल सेंटर श्रीलंका, नेपाल में भी हैं।

5000 करोड़ का है पूरा घोटाला

महादेव एप घोटाला मामला करीब 5000 करोड़ रुपये का बताया जा रहा है। गेम के प्लेटफॉर्म पर मौजूद सभी लॉटरी और बेटिंग ऑप्शन को इस तरह से डिजाइन किया गया था, इसे खेलने वाला प्लेयर्स हमेशा पैसे खोता था और कंपनी फायदे में रहती थी। दरअसल महादेव एप पर सट्टे का खेल 500 रुपये से शुरू होता था। इसे खेलने वाला अगर हार भी जाता था तो कंपनी उसे कुछ धनराशि दे देती थी। लोगों की इसकी लत लग जाती थी। इस एप का विस्तार कितना था इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि अकेले छत्तीसगढ़ में ही इसके 30 सेंटर थे। जांच एजेंसियों को शक है कि यह घोटाला 5000 करोड़ रुपये का हो सकता है।

हाल ही में ईडी ने इस मामले में छापेमारी की थी। ईडी ने कई शहरों में इस एप से जुड़े लोगों की 417 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त और फ्रीज की। महादेव एप का हवाला सिंडिकेट सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि दुनियाभर में पैसे का पैसे का लेन-देन करता था। ईडी को इस मामले में पाकिस्तान से कनेक्शन के भी सबूत मिले हैं। आरोप है कि एप की मदद से पाकिस्तान के हवाला ऑपरेटरों से भी करोड़ों का लेनदेन किया जाता था।

कौन-कौन ईडी की रडार पर?

इस मामले में ईडी की जां का दायरा बॉलीवुड के कई स्टार्स तक पहुंच गया है। इस मामले में टाइगर श्रॉफ, नेहा कक्कर, एली अव्राम, भारती सिंह, सनी लियोनी, भाग्य श्री, पुलकित, कीर्ति खरबंदा, नुसरत भरूचा, आतिफ असलम, राहत फतेह अली खान, अली असगर, विशाल डडलानी और कृष्णा अभिषेक का भी नाम सामने आया है।

Read More News Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *