SHOWMANSHIP

संसद में स्मोक अटैक करने वाला एक और शख्स गिरफ्तार

संसद भवन में सुरक्षा को लेकर जो चूक हुई है उसके लिए सरकार ने संसद की सुरक्षा की जिम्मेदारी केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल को सौंपने का निर्णय लिया है यह जानकारी आधिकारिक सूत्रों ने गुरुवार को दी और बता या की केंद्र सरकार के मंत्रालयों की सुरक्षा करने वाली टीम CISF की सरकारी भवन सुरक्ष के एक्सपर्ट और अभी के संसद सुरक्षा टीम के अधिकारियो के साथ CISS फायर ब्रिगेड तथा बचाव कार्यो पर जल्दी ही सर्वे शुरू होगा।
CISF केंद्र सशस्त्र बल है जिसका काम है परमाणु , एयरोस्पेस डोमेन के अंतर्गत असैन्य हवाई अड्डे , दिल्ली मेट्रो और कई केंद्रीय मंत्रालयों के भवनों की सुरक्षा करता है। सूत्रों से पता चला है की केंद्रीय ग्रह मंत्रालय ने बताया है कि शीघ्र ही संसद भवन के प्रसार का सर्वे परीक्षण चालू किया जाएगा। CISF और CISS के अग्निशमन और बचाव अधिकारी

सर्वे का काम इस सप्ताह के एन्ड तक शुरू कर देंगे संसद परिसर और उनकी दीवारों को सुरक्षा घेरे में रखा जाएगा इस काम के लिए PSS यानि की संसद सुरक्षा सेवा , दिल्ली पुलिस सेवा और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) PGD यानि संसद ड्यूटी समूह की यूनिट्स तैनात होंगे।

Read More: Click Here

यह सब इसलिए होगा क्यंकि आपको बता दें 13 दिसंबर यानि की संसद के बरसी के दिन ही संसद में कुछ बदमाश गैस के गोले लेकर हड़कंप मचा रहे थे। हालाँकि उनको गिरफ्तार कर लिया है बाकि जाँच अभी चल रही है परन्तु अब इसके लिए सुरक्षा बलों को तैनात किया जाएगा ताकि दोबारा ऐसा न हो। ऐसा क्यों हुआ और इसके पीछे कोण था अभी तक पुष्टि नहीं हुई है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *