SHOWMANSHIP

यूपी के कनोज से बड़े ही दिल दुखने वाली घटना सामने आयी है। यहाँ पर हिस्ट्रीशीटर को पकडने वाली पुलिस टीम पर गांव के कुछ बदमाशों ने अचानक से फायरिंग करने शुरू कर दी , इस गोलीबारी में सिपाही सचिन राठी कि गोली लगने से मौत हो गयी , सिपाही को जल्दी ही पास के अस्पताल में पहुँचाया गया तो वहां पर उसे मृत घोषित कर दिया गया , वहीँ घटना के थोड़ी देर बाद हिस्ट्रीशीटर अशोक यादव और उसके बेटे को एनकाउंटर के बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया , इस एनकाउंटर में दोनों के पैरों में गोली लगी , उन्होंने सिपाही को गोली मरी और वहां से भागने लगे तभी पोलिसकर्मियो ने उनको पकड़ लिया। यह घटना धरनी धीरपुर नगरीय गांव की है।

जाने पूरा मामला

आपको बता दें की मामला सोमवार शाम पांच बजे का है जब थानाध्यक्ष पारुल चौधरी पुलिस टीम के साथ हिस्ट्रीशीटर मुन्ना यादव उर्फ़ अशोक यादव को गिरफ्तार करने पहुंचे , पर मामला उल्टा पद गया क्योंकि आरोपी को पुलिस के आने की खबर लगी तो उसने पुलिस पर ही गोलियां बरसा दी जिसमे एक सिपाही सचिन राठी को तंग में गोली लग गयी। उन्हें तुरंत हॉस्पिटल ले जाया गया और वहां से भी उन्हें हायर सेण्टर ले जाया गया जहाँ पर उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। इसके बाद टीम के आला अधिकारी फिरसे के साथ हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने पहुंचे और उसके मकान को घेर लिए वहां पर उन्होंने आरोपी और उसके बेटे ने भागने की कोशिश की और पुलिस पर भी गोलिया चलने लगे तो पुलिस ने मोके अपर उनका एनकाउंटर कर उसके पैर पर गोली मारी और उनको गिरफ्तार कर लिया गया।

Read More: Click Here

पुलिस ने बताया कि हिस्ट्रीशीटर की विरुद्ध गैर जमानती वारंट जारी हुआ है। उस पर हत्या , लूट , गैंगस्टर , डकैती के 20 से ज़्यादा मुकदमे जारी हैं , बताया जा रहा है कि जिस समय इन दोनों को गिरफ्तार कर रहे थे उस उसमे मुन्ना की पत्नी और घर की दूसरी औरते भी थी उनके खिलाफ भी शिकायत दायर की गयी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *