SHOWMANSHIP

राजस्थान  के टोंक जिले के देवली उणियारा कि विधानसभा सीट के लिए बीजेपी के उमीदवार हैं विजय बैंसला कांग्रेस पार्टी के हरीश चंद्र मीणा के साथ खिलाफ मतदान में उतरे हुए हैं।  हरीश चंद्र  पूर्व डीजेपी और अभी के बिधायक हैं।  52  साल के विजय  गुर्जर संघर्ष समिति के नेता  हैं  और गुर्जर आर्कषण आंदोलन के नेता रहे किरोड़ी बैंसला के बेटे हैं। विजय बैंसला का यह पहला बारी है जिसमे वह विधानसभा चुनाव में प्र्तयशी घोषित किये गए हैं। इन्होने MBA  किया हुआ है जो कि पढ़े लिखे व्यक्ति हैं और राजनीती में अच्छी रणनीति बनाने में सक्षम हैं। 

इनके पिता ने भी 2009  में लोकसभा चुनाव लड़ा था जो कि टोंक सवाई माधोपुर से लड़ा गया था 

जो कि 375225  वोटों से जीते थे वे काफी प्रसिद्ध व्यक्ति थे और जातीय आरक्षण आंदोलन में काफी सक्रिय थे इसके बाद वो 2019  में अपने पुत्र सहित बीजेपी पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के साथ समिल्लित हो गए। विजय बैंसला के काफी लोग उनको बहार का बता केर विरुद्ध भी हैं पैर विजय इन सब बातो को बेकार कि बातें बता रहे और कह रहे हैं की वो अकेले चुनाव नहीं लड़ रहेहैं उनके साथ और भी लोग चुनाव में उनका साथ देंगे।

Read More: Click Here

विजय जी का कहना है कि वो गुर्जर समाज के हित के लिए आगे रहेंगे उनका कल्याण करने के लिए सभी प्रयत्न करेंगे क्युकी वो कहते हैं कि गुर्जर आरक्षण एक बड़ा मुद्दा है इसलिए इस पर ज़ोर दे रहे हैं इसके साथ स्थानीय मुद्दे जैसे पानी , बिजली, शिक्षा , स्वास्थ्य इत्यादि पर भी पूरा ध्यान देंगे।  उनका कहना है कि हमे भरोसा है कि हम इसे पूरा करने में सफल होंगे 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *