SHOWMANSHIP

इतने सालो में बेटियों के लिए कोई सुरक्षा नहीं है भारत में : निर्भया रेप और हत्याकांड

साल 2012 में दिसंबर 16 को हुए गैंग रेप मामले पर पुरे ग्यारह साल बाद एक बाप ने अपनी बेटी को खो देने के गम में कहा कि हमारी राष्ट्रीय राजधानी में महिलाओ के लिए कुछ भी नहीं बदला। ग्यारह सालो में आज ही के दिन उस बेटी के साथ रात के समय में पांच युवको और एक किशोर ने चलती बस में पेरामेडिकल की छात्रा और उसके बॉयफ्रेंड के साथ उन लड़को ने जोर जबरदस्ती की। इस दुर्घटना ने पुरे देश को बुरी तरह से झकजोर कर रख दिया।

सुनिए पीड़िता के पिता की जुबानी

पीड़िता के पिता ने कहा कि हमारा देश बहुत तरक्की कर रहा है बहुत सी चीजे ठीक हुई है , कल्याण में सुधार हुआ है। और ये भी कह सकते हैं कई प्रकार से हमे लाभ हुआ है। हमने धार्मिक और समाजिक क्रांति में आगे बढ़ रहे हैं। पर जिस चीज में बदलाब नहीं हुआ है वह है महिलाओ कि सुरक्षा में उनके लिए अभी भी कोई सुरक्षा नहीं है।

Read More: Click Here

पीड़िता के पिता ने कहा कि निजी वकीलों से आगे राज्य के वकीलों के आगे कुछ भी नहीं है , पिता का कहना है कि इन अपराधों में या तो पुलिस एफआईआर दर्ज नहीं करते हैं या फिर अमीरो के वकील कभी कभी अपने सामने राज्यों के वकीलों टिकने भी नहीं देते। उनका कहना है कि भारत जैसे देश में बेटियों और पत्नियों के लिए कोई भी सुरक्षा नहीं है इस तरह कि टिप्णियां NCRB के द्वारा जारी किये गए आंकड़ों से सामने आये हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *