SHOWMANSHIP

संसद में स्मोक अटैक करने वाला एक और शख्स गिरफ्तार

बुधवार 13 दिसंबर को लोकसभा सदन में दो युवक अचानक से घुस आये जिससे सदन की कार्रवाई को बीच में रोक दिया गया और पता लगाया गया की वो दो लड़के कैसे घुस गए। उनके हाथ में पीला धुआं छोड़ने वाले कनस्तर थे वो धुआं जानलेवा भी हो सकता था। इस स्प्रे के साथ साथ वह ये नैरा भी लगा रहे थे की तानाशाही नहीं चलेगी। इस तरह की घटना संसद के लिए निश्चित रूप से एक बड़ी चूक मालूम पड़ती है। लेकिन सबके मन में यह सवाल है आखिरकार सदन के सुरक्षाबलों से इतनी बड़ी चूक कैसे हो सकती है कोई कैसे अंदर आ सकता है वो भी दो कनस्तर लेकर उनके पास विसिटोर्स पास भी मौजूद थे पर कैसे आये उनके पास पास और कैसे कोई सदन के अंदर जा सकता है आईये विस्तार में जानते हैं।

तो आपकी जानकारी के लिए बता दें की आम जनता भी लोकसभा सदन में एंट्री कर सकती है पर उसके लिए सदन के द्वारा रेकमेंडेशन होना जरूरी है किसी का । इसके बाद आपके लिए एक पास भी बनाया जाता है जिसपे अप्रूव करने वाले संसद का नाम भी लिखा होता है। आमतौर पर संसद के संसदीय क्षेत्र के लोग संसद के रेफ़्रेन्स से अंदर आ जाते हैं ताकि वह सदन की कार्रवाय देख सकें।
इस तरह के पास को ग्रुप में या अकेले भी बनबाया जा सकता है। कई सारे स्कूल भी बचो को संसद दिखाने के विजिट पर ले आते हैं उनके लिए अलग से पास बनाया जाता है अगर आप जाना चाहते हैं तो सचिवालय से भी पास बना सकते है। पर प्रोसेस यहीं खतम नहीं होता इसके बाद आगे गेट पर आपके फ़ोन, पर्स अन्य गैजेट की चेकिंग होती है तब आपको अंदर जाने दिया जाता है। अंदर जाकर भी आपकी 2 लेयर चेकिंग होती है।

Read More: Click Here

क्या होती है सदन में जाने की प्रक्रिया

इसके बाद आपको यह जानकारी देनी होती है की आपको कौन से सदन में जाना है लोकसभा या राजयसभा ,इसके ऊपर दर्शक दीर्घ बनी होती है वो आप देख सकते हैं इसके लिए आपको लिमिटेड टाइम ही मिला होता है जिसका समय निर्धारित होता है। अब आपको बता दें की ये दोनों युवक अपने साथ धुआं छोड़ने वाले कनस्तर लेकर अंदर आये थे इनको अंदर आने की परमिशन मैसूर से सदन में आने के लिए संसद प्रताप सिंह के विजिटर ऍप्रूवल ,मिला था।, परन्तु ये जो गैस अपने साथ लेके चल रहे थे इसके कारण इनको बंदी बना लिए गया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *